बधाई.....

भारत के माननीय राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी द्वारा राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त करने के लिए इस विद्यालय के टीजीटी गणित, श्रीमती रुनुमी भट्टाचार्य को हार्दिक रूप से बधाई

 kvcut

मेरा मानाना है

प्रिय नागरिकों , धन-संमत्ति चुराने से बेहतर होगा कि हम आगे आने वाली पीढ़ी यानी अपनी संतानों की देख –रेख में अपना समय लगाएं |

                                                                                                                               - सुकरात

 

शिक्षा के विषय में गांधी जी के विचार-

 

सन १९३७ में गांधी जी ने अपनी शिक्षा की नयी योजना “नयी तालीम” को स्थापित किया | वे जानते थे कि नवीन भारत को नवीन भारत की आवशयकता है | उनकी यह नयी तालीम शिक्षा का वह परिवर्तित रूप था जो नयी सामाजिक व्यवस्था पर आधारित था जिसका आधार सत्य और अहिंसा था | यदि हम शिक्षा को “बल सहित उपकरण” मानतें हैं तो हमें इस नयी तालीम को अपनाना होगा जजों तत्कालिक जरूरतों को पूरा करती हैं | एक स्वाभाविक आवश्यकता इस बात की है कि हम सामाजिक और नैतिक मूल्यों को पूर्ण रूप से ग्रहण करें | सत्य एवं अहिंसा ऐसे अनंत कालीन अध्यात्मिक मूल्य हैं जो हमे अतीत के पूर्वजों से प्राप्त हुए हैं, किन्तु जब उन्हें वास्तविक जीवन में अपनाया जाता है, तो ये मूल्य आधुनिक विज्ञान और गणतांत्रिक मूल्यों के निकट आ जातें हैं| हमे विश्व में ऐसे सटीक इशारे प्राप्त हो रहें हैं कि देर से ही सही लेकिन विज्ञान “सत्य” तथा आधात्मिकता के बीच सामजस्य अवश्य स्थापित होंगा ! गणतंत्र इन दोनों के मध्य एक सूत्र का काम करेगा ! ये ऐसी नयी संस्कृति  का आधार होगा जो कि वर्तमान के जीवन भिन्न होगा ! उज्जवल भारत के लिए हमें एक ऐसी नयी संस्कृति चाहिए जो  विज्ञान और आघ्यात्मिकता के श्रेष्ठ तत्वों के मेल से बनी हुई हो!

 

चलिए  हमारी परिवर्तित शिक्षा को यह रास्ता दिखाये!

 

मानवीय विकास के लिए शिक्षा मूल उपकरण हैं!

 

महात्मा गाँधी जी कहा है – शिक्षा समाज के पुनगठन और चेतनता के विकास के लिए आधारभुत  है!

 

यूनिवर्सल डिक्लेरेशन ऑफ़ ह्यूमन राइट्स ,१९४८ के अनुसार – सभी को शिक्षा का अधिकार हैं!

 

शिक्षक इस लक्ष्य प्राप्ति का माध्यम हैं!

 

महात्मा गाँधी जी कहा है –“ मैंने सदा महसूस किया है कि सच्ची पुस्तक  विद्याथियो के लिए उसका शिक्षक हैं!

 

विद्याथियो की विचार-प्रक्रिया की असली क्षमता  को जगाने का आदर्श शिक्षक होता हैं! वह ’अभ्यास ‘ से  पढ़ता है न कि साधारण नियम के आधार पर !

                                                     

                                                                                                                                                                                                                                                                  प्राचार्य 

 

 

I like very much this iPage Hosting Review because this is based on customer experience. If you need reliable web hosting service check out top list.
पिछले अद्यतन:
23-01-2018 08:24

आगंतुकों

16530 Hits
Tuesday, 20th February 2018
11:04:04am
Joomla Templates designed by Best Cheap Hosting